हाल की गतिविधियाँ/सूचना पट

-सतर्कता जागरूकता सप्ताह -2019 का अनुपालन (सत्यनिष्ठा प्रतिज्ञाएं)

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-खोई के वैकल्पिक उपयोग पर वेबिनार

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-अतिथि संकाय सदस्य की नियुक्ति 2020-21

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-एम.एस.सी व बी.टेक विद्यार्थीयो के लिए जुलाई 2020 के शोध निंबध,थिसिस,प्रोजेक्ट कार्य।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-स्वच्छता ही सेवा - 11 सितंबर से 02 अक्टूबर, 2019 तक।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-सेनीटाइजर उत्पादन एवं गुणवत्ता नियंत्रण पर ऑनलाइन कार्यशाला

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-वैश्विक महामारी के बीच घरेलू एवं औद्योगिक सेनीटाइजर पर वेबिनार आयोजित

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-राष्ट्रीय शर्करा संस्थान के निदेशक द्वारा वेबिनार "भारतीय शर्करा उद्योग पर COVID-19 का प्रभाव"

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-कक्षाओं का निलंबन/ छात्रों का दौरा।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-फिटर-सी के पद पर चयन के लिए लिखित परीक्षा की मार्क शीट (संशोधित)।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-“स्वच्छ प्रौद्योगिकी का विकास एवं औद्योगिक प्रदूषण को कम करने के उद्देश्य से अपशिष्ट का 4 आर – रिड्यूस, रियूज, रिसाइकल तथा रिकवर के अंतर्गत प्रबंधन” विषय पर प्रशिक्षण कार्यक्रम।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-एम.एस.सी व बी.टेक विद्यार्थीयो के लिए जनवरी 2020 के शोध निंबध,थिसिस,प्रोजेक्ट कार्य, आवेदन फार्म व अनुदेशो के लिए क्लीक करे।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-“भारतीय शर्करा के मानकीकरण एवं गुणवत्ता निर्धारण” के लिए एन.एस.आई. कानपुर मे दिनांक 26 सितंबर, 2019 को संयुक्त रूप से NSI, BIS एवं Maarc Labs द्वारा राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-NSI में कार्यकारी विकास कार्यक्रम -2019 (पुनर्निर्धारित)।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-नाइजीरिया शर्करा विकास परिषद ने NSI का दौरा किया।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-16 फरवरी से 28 फरवरी 2019 तक NSI में स्वच्छ पखवाड़ा।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-ई टी पी (शर्करा) के वैधीकरण और कुशल संचालन हेतु तीन दिवसीय कार्यशाला का आयोजन (11-13 सितंबर 2019)।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-फिटर 'सी' के पद के लिए चयनित गए अभ्यर्थीयों

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-फिटर ’C’ के पद के लिए अनंतिम रूप से चयनित उम्मीदवारों के लिए "कौशल दक्षता परीक्षा"

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-एम.एस.सी व बी.टेक विद्यार्थीयो के लिए जुलाई 2019 के शोध निंबध,थिसिस,प्रोजेक्ट कार्य, आवेदन फार्म व अनुदेशो के लिए क्लीक करे

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-सतर्कता जागरूकता सप्ताह-2018।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-फिटर 'सी' के पद को भरने के लिए लिखित परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-29 और 30 मई 2019 को एनएसआई कानपुर में वार्षिक सम्मेलन और शुगर एक्सपो 2019।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-अतिथि संकाय सदस्य की नियुक्ति।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-करुणामूलक आधार पर नियुक्ति प्रपत्र।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-12 अप्रैल 2019 को एस.एन.एस.आई. बेलागवी में "बायो एनर्जि फ्रम शुगर इंडस्ट्री" पर संगोष्ठी।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-सतर्कता जागरूकता सप्ताह -2018 का अनुपालन (सत्यनिष्ठा प्रतिज्ञा)

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर मे “स्वच्छता ही सेवा” कार्यक्रम - 15 सितंबर से 2 अक्टूबर 2018 तक आयोजित।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-28 फरवरी 2019 को नई दिल्ली में "इथेनॉल: नीति, उत्पादकता और लाभप्रदता" पर एक दिवसीय संगोष्ठी

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-एम.एस.सी व बी.टेक विद्यार्थीयो के लिए जनवरी 2019 के शोध निंबध,थिसिस,प्रोजेक्ट कार्य, आवेदन फार्म व अनुदेशो के लिए क्लीक करे

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-तकनीकी सहायक (शर्करा प्रौद्योगिकी) के लिए आयोजित लिखित चयन परीक्षा का परीक्षा-परिणाम

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-18-09-2018 को पेंशन अदालत (शिकायतें)

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-“गन्ना-रस या बी-हेवी मोलसेस से एथनोल उत्पादन मे टेक्नो- इकोनोमिक उपाय की व्यवहार्यता” विषय पर एन. एस. आई. मे एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन दिनांक १६-१०-२०१८।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-ई टी पी संचालन एवं प्रयोगशाला विश्लेषण पर प्रशिक्षण।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-49 वां दीक्षांत समारोह का आयोजन दिनांक 5 अक्टूबर 2018 तक के लिए स्थगित।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


- एमटीएस के पद पर अनुकंपा आधारित भर्ती संबन्धित प्रोफ़ार्मा सह कार्यालय ज्ञापन।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


- नियुक्ति परिपत्र [शर्करा एवं खाद्य तेल निदेशालय मे निदेशक के पद पर रिक्ति सूचना]

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-269 मामलों मे पेंशन संसोधित किए गए। पेंशनधारी/ पारिवारिक पेंशन धारी जिनका अब तक पेंशन नियमित नहीं किया गया है, वे अपनी आवश्यक कागजात यथाशीघ्र जमा करें।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर मे आयोजित पंजाब स्टेट फेडरेशन के को ओप्टेरिव शर्करा मिल लिमिटेड मे विभिन्न पदों पर रिक्तियों से संबन्धित आयोजित लिखित परीक्षा का परिणाम।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-तकनीकी सहायक के पद पर चयन संबन्धित योग्यता।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-ईटीपी संचालन एवं प्रयोगशाला विश्लेषण पर तीन दिवसीय प्रशिक्षण।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-स्वच्छ भारत ग्रीष्मकालीन सत्र

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-दिनांक 18 एवं 19 जुलाई, 2018 को आयोजित होने वाले “बदलते उपभोक्ता मांग के अनुरूप शर्करा एवं शर्करा अवयव (शुगर डेरिवेटिव)” विषय पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन। संबन्धित विवरण / रजिस्ट्रेशन फार्म के लिए क्लिक करें।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-रिफ्रेशर कोर्स 2018, 16-20 जुलाई 2018

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-गेस्ट-फेकल्टी 2018-19 का परिणाम।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-छात्रों के लिए डिसर्टेशन / प्रशिक्षण सत्र।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-एच.पी.सी.एल. जैव ईंधन लिमिटेड पटना में रिक्ति संबन्धित सूचना।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-गेस्ट-फेकल्टी के लिए आवेदन पत्र।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-ऑनलाइन आवेदन जमा करने की तिथि 18-05-2018 तक बढ़ाई गई।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर मे सतर्कता सप्ताह- 2017 आयोजित।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-राष्ट्रीय चीनी संस्थान, कानपुर मे 23 मार्च, 2018 को शर्करा कारखानों के लिए निर्धारित चार्टर पर विमर्श हेतु कार्यशाला का आयोजन।

यहां क्लिक करे
राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-करुणामूलक (अनुकंपा) आधार पर नियुक्ति संबन्धित सर्कुलर (परिपत्र)।

यहां क्लिक करे
15-03-2018 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-दिनांक 15 मार्च, 2018 को उत्तर भारत में आसवनी / इथेनॉल परियोजनाओं के साथ-साथ इनसीनरेशन बॉयलर आधारित कैप्टिव को-जेन विद्युत संयंत्रों के विकास के लिए को लखनऊ में एक दिवसीय कार्यक्रम।

यहां क्लिक करे
15-03-2018 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-एफ्लुएंट जेनरेशन के लिए मानक का निर्धारण।

यहां क्लिक करे
14-03-2018 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-राष्ट्रीय शर्करा संस्थान में विभिन्न पदों पर नियुक्ति के लिए चयनित उम्मीदवारों की सूची।

यहां क्लिक करे
24-08-2017 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-दिनांक 16 मई, 2017 से 31 मई, 2017 तक राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर में स्वच्छता पखवाड़ा का आयोजन

यहां क्लिक करे
May 2017 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


- श्री नरेन्द्र मोहन, निर्देशक ने आईसीएआर-इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ गन्ना अनुसंधान, लखनऊ में एनआईएसएसटीए द्वारा आयोजित वार्षिक सम्मेलन और तकनीकी एक्सपो-2016 में उद्घाटन व्याख्यान दिया। श्री अनूप कुमार कानौजिया ने "उत्तर प्रदेश पावर संकट नियंत्रण में शर्करा उद्योग की भूमिका" पर कागज प्रस्तुत किया और डा। अशोक कुमार ने "परमाणु उत्पादन पर गोरम की उपज गुणों और जैव रासायनिक गुणों पर पोटेशियम जस्ता और सल्फर का प्रभाव" पर कागज प्रस्तुत किया। कहा सम्मेलन में

20-30 अप्रैल 2016 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


NISSTA द्वारा आयोजित ICAR भारतीय गन्ना शोध संस्थान, लखनऊ के वार्षिक औपचारिक बैठक सह तकनीकी प्रदर्शनी 2016 में संस्थान के निदेशक श्री नरेन्द्र मोहन ने स्वागत भाषण प्रस्तुत किया. श्री अनूप कुमार कनौजिया ने “उत्तर प्रदेश में ऊर्जा जरुरतों को पूरा करने में शर्करा संस्थानों का योगदान” विषय पर और डॉ0 अशोक कुमार ने “पोटैशियम जिंक तथा सल्फर का चुकन्दर के संरचना आधारित जैव रसायन लक्षणों पर प्रभाव का उपयोग इथनॉल उत्पादन में” विषय पर उसी कार्यक्रम में दिनांक 29 एवं 30 अप्रैल,2016 को शोध पत्र प्रस्तुत किए।

21-23 अप्रैल 2016 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-श्री जे.पी. श्रीवास्तव, प्रमुख डिजायन अभियंता और श्री एस. के बनर्जी, वरिष्ठ संयंत्र अभियंता ने मिलकर “अंतर्राष्ट्रीय सतत एवं दूषित वाहित जल व्यवस्था” पर आयोजित कार्यक्रम, पुणे में अपना शोध पत्र “ जल संरक्षण और भारतीय शर्करा उद्योग में जल प्रबन्धनः- एक नवीन अवधारणा” विषय पर प्रस्तुत किया।

6-7 अप्रैल 2016 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-श्री नरेन्द्र मोहन, संस्थान के निदेशक ने “भारत में कार्बनिस शर्करा उत्पादन पर जोर देते हुए विशिष्ट शर्करा उत्पादन परिदृष्य” विषय पर वार्षिक संगोष्ठी में भाग लिया तथा उक्त विषय पर शोध पत्र भी प्रस्तुत किया जिसका आयोजन एन्ड्रयू वान हुक (AVH), प्रतिपूर्ति, फ्रांस द्वारा की गई थी। इस पर उन्होंने ISJ के संपादक AVH के अध्यक्ष तथा अन्य विद्वानों के साथ ऑन लाइन रंजक नियंत्रण, रवाकरण तथा शोधित शर्करा को सुखाने से संबंधित विषयों पर विस्तृत विमर्श किया।

2 मार्च 2016 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


श्री प्रभात कुमार झा Jha, SS&FA ने संस्थान का भ्रमण तथा यहाँ की विविध गतिविधियों का निरीक्षण 2 मार्च 2016 को किया। किया गया था।

20 फरवरी 2016 से 11 मार्च 2016 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-काकामेगा के मेसर्स पश्चिमी केन्या के प्रबन्धकों द्वारा विशेष माँग पर तीन सप्ताह का विशिष्ट प्रशिक्षण कार्यक्रम उनके प्रशिक्षु प्रबन्धकों के लिए उनके परिसर में 20 फरवरी 2016 से 11 मार्च तक आयोजित किया गया।

1 फरवरी 2016 राष्ट्रीय शक़्क़र संस्थान, कानपुर


गणतंत्र दिवस कार्यक्रम

26 जनवरी 2016 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर में गणतंत्र दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। पूरे वर्ष भर संस्थान के भीतर तथा बाहर व्यक्तिगत प्रयासों से स्वच्छता के लिए कर्मचारी को “स्वच्छता” सम्मान दिया गया।



- संस्थान के निदेशक द्वारा “इथेनॉल की संभावना और इसका मूल्यांकन” विषय पर ISMA के द्वारा आयोजित कार्यशाला में व्याख्यान दिया गया जिसका आयोजन 22 जनवरी, 2016 को नई दिल्ली के होटल ले मेटिडियन में किया गया था।

22 जनवरी 2016 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


- संस्थान ने माननीय राष्ट्रपति द्वारा 150 विश्वविद्यालयों तथा अन्य उच्च शिक्षण संस्थानों के छात्रों और कर्मचारियों के लिए आयोजित विडियो कॉन्फ्रेंसिग कार्यक्रम में भाग लिया, इसका आयोजन 19 जनवरी 2016 को “युवा और राष्ट्रनिर्माण” विषय पर किया गया था।

19 जनवरी 2016 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


माननीय कृषि मंत्री, उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने दिनांक 7 जनवरी, 2016 रो संस्थान का भ्रमण किया तथा नवनिर्माण एस.सी गुप्ता छात्रावास का उद्घाटन तथा उसके विविध गतिविधियों का निरीक्षण किया। उन्होंने संस्थान को वैश्विक स्तर के संस्थान बनाने के लिए मंत्रालय की तरफ से सभी प्रकार की आर्थिक एवं अन्य सहयोग प्रदान करने की घोषणा की।

7 Jan 2016 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


- भूतपूर्व छात्रों के ओल्ड ब्वाइज संगठन द्वारा आयोजित नव वर्ष कार्यक्रम

7 जनवरी 2016 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर


-गन्ना तकनीशियनों के अंतर्राष्ट्रीय संगठन द्वारा थाईलैण्ड में आयोजित दिसम्बर 2016 को XXIX के औपचारिक बैठक में तीन शोध पत्र प्रस्तुत करने के लिए भेजे गये जो निम्न हैः-

दिसंबर, 2015 दिसम्बर, 2015 अंतर्राष्ट्रीय गन्ना तकनीकी की संगठन, थाईलैण्ड की औपचारिक बैठक


I.नरेन्द्र मोहन एवं महेन्द्र कुमार यादव द्वारा पैन का पुनर्निर्माण एवं वाष्पीकारक से उत्पन्न अंतिम वाष्प उत्पाद को MVR के माध्यम से पुनः संपीडित कर वाष्पीकारक में प्रयोग ।

II.नरेन्द्र मोहन एवं विष्णु प्रभाकर द्वारा गन्नों की खोई से गैफीन ऑक्साइड का उत्पादन तथा उसका कार्बोकैटलाइसिस में प्रयोग ।

III. सीमा परोहा एवं सन्तोष कुमार द्वारा भारत में अल्टेनेट फीड स्टॉक के माध्यम से इथनॉल का किफायती उत्पादन।



- ISO 9001:2008 की द्वतीय निगरानी परीक्षा 15 दिसम्बर 2015 को M/S QSI(भारत) प्रमाणीकारक संस्था, जयपुर द्वारा किया गया। -

15th दिसंबर, 2015 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर

- महिलाओं के प्रति होने वाली लैंगिक उत्पीड़नों के विरुद्ध नियत समय में उठाये जाने वाले कदमों के प्रति तकनीकी संस्थानों में शिक्षकों तथा प्रबन्धन को जागरुक करना। विषय पर कार्यशाला 28 नवम्बर 2015 अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा समिति, लखनऊ

28th नवंबर, 2015 अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद, लखनऊ


संस्थान के शर्करा तकनीक के सहायक प्रध्यापक और शिक्षा पदाधिकारी डॉ0 जाहर सिंह ने एक कार्यशाला में भाग लिया जिसका विषय था “महिलाओं के प्रति होने वाले लैंगिक उत्पीड़नों के विरुद्ध नियत समय में उठाए जाने वाले कदमों के प्रति तकनीकी संस्थानों में शिक्षकों तथा प्रबन्धन को जागरुक करना” इस कार्यक्रम का आयोजन अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा संगठन के द्वारा लखनऊ में 28 नवम्बर 2015 को किया गया।



- " संविधान दिवस


26 नवंबर, 2015 एन.एस.आई, कानपुर

“संविधान दिवस / संविधान दिवस - 26 नवंबर, 2015”

संस्थान में 26 नवम्बर 2016 रो वरिष्ठ प्रशासनिक पदाधिकारी एवं शिक्षी पदाधिकारी ने संविधान दिवस के अवसर पर डॉ0 भीमराव अम्बेडकर की भारतीय संविधान के निर्माण में योगदान पर प्रकाश डाला।



-“विक्लप आधारित संग्रि विस्तारण और आबकारी उद्योग में वातावरणीय मामले” विषय पर राष्ट्रीय संगोष्ठी।

19th नवंबर, 2015 एन.एस.आई कानपुर

डिस्टिलरीज में वैकल्पिक फ़ीड स्टॉक्स और पर्यावरणीय समस्याएं तलाशना

“विक्लप आधारित संग्रि विस्तारण और आबकारी उद्योग में वातावरणीय मामले” उपरोक्त विषय पर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन दिनांक 19 नवम्बर 2015 को राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर में किया गया, जिसका आयोजन अखिल भारतीय मद्ध आबकारी संगठन, नई दिल्ली के सहयोग से किया गया था। संगोष्ठी का उद्घाटन प्रो0 एस के गुप्ता जो संस्थान के पूर्व निदेशक हैं के द्वारा किया गया, उन्होंने सह उत्पाद प्रबन्धन के क्षेत्र में राष्ट्रीय शर्करा संस्थान की भूमिका का बखान किया। AIDA के सामान्य निदेशक श्री वी के रैना ने भी उद्घाटन भाषण में उपस्थित श्रोताओं को AIDAकी भूमिका , नई तकनीकों के विकास और नियमों के निर्धारण के क्षेत्र में बनाया। इस संगोष्ठी में वृहत पैमाने पर महराष्ट्र, कर्नाटक, गुजरात, उत्तर प्रदेश तथा हरियाणा के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इस संगोष्ठी में अल्कोहल तथा आबकारी उद्योग में विशेषज्ञों ने महत्पूर्ण विषयों पर प्रकाश डाला जैसेः- बी प्रकार के भारी गुण संश्षलेषण तथा अन्य विकल्पीय संग्रह से अल्कोहल उत्पादन, ब्वायलर के अतिरिक्त उत्पाद को भष्म करना तथा उससे कृषि के क्षेत्र मे उपयोग जिससे ZLD को प्रयोग किया जा सके।

उद्घाटन भाषण देते हुए एआईडीए के महानिर्देशक श्री वी.एन. रैना ने प्रतिनिधियों को नई प्रौद्योगिकियों के प्रचार और नीति मामलों के बारे में एआईडीए की भूमिका के बारे में बताया। बड़ा नहीं महाराष्ट्र, कर्नाटक, गुजरात, यूपी और हरियाणा के प्रतिनिधियों से संगोष्ठी में भाग लिया संगोष्ठी के दौरान अल्कोहल एंड ब्रुएरी इंडस्ट्रीज के प्रमुख विशेषज्ञों ने अपनी महत्वपूर्ण विषय पर प्रस्तुति दी, बी-भारी गुड़ों का मोड़ और अल्कोहल के उत्पादन, जलाए जाने वाले बॉयलर की स्थापना और फसल-सिंचाई आदि को अपनाने के लिए वैकल्पिक खाद्य भंडार का उपयोग, जेडएलडी हासिल करने के लिए।



- किसान मिलो / किसान गोशाथी

17th नवंबर, 2015 एन.एस.आई कानपुर

“गन्ने की गुणवत्ता और उत्पादन में पोटाश उर्वरक का महत्व”

इंस्टीट्यूट फार्म में 17 नवंबर, 2015 को "गन्ना गुणवत्ता और उत्पादन में पोटाश उर्वरक का महत्व" संस्थान द्वारा एक किसान गौथी का आयोजन किया गया था। बड़ा नहीं कानपुर के आसपास के किसानों और आस-पास के इलाकों में गोस्थी में भाग लिया। गन्ने की उत्पादकता बढ़ाने के लिए किसानों को पोटाश और अन्य सूक्ष्म पोषक तत्वों की भूमिका पर शिक्षित किया गया। उपप्रौढ क्षेत्र के लिए विकसित नए उच्च उपज और उच्च शक्कर गन्ना किस्मों पर किसानों को भी जानकारी दी गई।



फॉर्म की गतिविधियाँ


नवंबर, 2015 एन.एस.आई कानपुर

"इंस्टीट्यूट फ़ार्म में तीन मिठाई जौ और दो शर्करा बीट किस्मों का बोया गया"

तीन मिठाई जबरदस्त किस्मों - सीएसएच 22 एसएस, एसएसवी -84, सीएसवी -24 एस 3 और दो शर्करा बीट किस्मों एलएस -6, सीवी-पीएसी 60008 संस्थान के खेत में बोया गया है।

उपज, सूक्रोज सामग्री और कुल शर्करा सामग्रियों आदि के संबंध में अध्ययन किया जाएगा। उपोष्णकटिबंधीय परिस्थितियों में अधिकतर प्रयोगशाला परीक्षणों को भी चुकंदर और मीठे ज्वार का रस से इथेनॉल उत्पादन की क्षमता का उपयोग करने के लिए किया जाएगा।
इसके अलावा स्टिविया की खेती के अलावा संस्थान में प्रयोगात्मक आधार पर भी लिया गया है।



- केंद्र सरकार के कर्मचारी कल्याण समन्वय समिति के तत्वावधान में संस्थान ने 3 नवंबर, 2015 को संस्थान जिम्नेज़ियम में वेटलिफ्टिंग और कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन किया। -

3rd नवंबर-2015 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान, कानपुर

- " सतर्कता जागरूकता सप्ताह "मनाया

26 - 31st अक्टूबर 2015 एन.एस.आई, कानपुर

“सतर्कता जागरुकता सप्ताह का आयोजन

“सतर्कता जागरुकता सप्ताह 26 अक्टुबर से 31 अक्टूबर 2015 संस्थान में जागरुकता सप्ताह का आयोजन 26 अक्टूबर से 31 अक्टूबर 2015 को किया गया। इस अवसर पर निदेशक महोदय ने कार्मचारियों और पदाधिकारियों को उसके लिए शपथ दिलायी। इस अवसर पर संस्थान में स्लोगन, वाद-विवाद तथा निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिनके विजेता निम्नलिखित हैः-

निबंध प्रतियोगिता:

1. शश्री सन्तोष कुमार त्रिपाठी, प्रवर श्रेणी लिपिक- प्रथम
2. शश्री प्रभात कुमार अग्रहरि प्रशिक्षु- द्धितीय
3. श्री अमर गुप्ता, शर्करा इंजीनियरिंग- तृतीय

वाद-विवाद प्रतियोगिता

1.श्री श्रीराम तिवारी अवर श्रेणी लिपिक- प्रथम
2.श्री अखिलेश कुमार पाण्डेय, ड्राफ्टमैन– द्धितीय
3. श्री सन्तोष कुमार त्रिपाठी, प्रवर श्रेणी लिपिक – तृतीय



- राष्ट्रीय संगोष्ठी विषय

17th अक्टूबर, 2015 पुणे, महाराष्ट्र

“गन्ना उर्जा उत्पादन तकनीकें”

वर्तमान में उपलब्ध, विकासशील एवं भविष्य में आने वाली तकनीकें। 7 अक्टूबर, 2015 पुणे, महाराष्ट्र “गन्ना उर्जा उत्पादन तकनीकें”- वर्तमान में उपलब्ध, विकासशील एवं भविष्य में आने वाली तकनीकें” विषय पर एक संगोष्ठी का आयोजन संस्थान के द्वारा दिनांक 17 अक्टूबर, 2015 को मेसर्स जे जी मुखर्जी एवं एसोसिएट लिमिटेड के सहयोग से महाराष्ट्र में आयोजित की गयी। इस अवसर पर महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडू, गुजरात, उत्तर प्रदेश आदि से प्रतिनिधिओं ने वृहत पैमाने पर भाग लिया। इस अवसर पर संस्थान के निदेशक ने उद्घाटन भाषण में नई तकनीकों के माध्यम से और उनके प्रभावी नियंत्रण के माध्यम से उर्जा संरक्षण पर जोर दिया। मेसर्स जे पी मुखर्जी एवं एसोसियेट लि0, पुणे के प्रबन्ध निदेशक ने स्वागत भाषण में नई उर्जा संरक्षण करने वाली तकनीकों, विशेषकर,जूस परिष्करण, शीतलन आदि स्तरों पर के इस्तेमाल पर जोर दिया। इस संगोष्ठी के दरम्यान दस शोद पत्रों को प्रस्तुत किया गया। ये सारे शोध पत्र गन्ना आधारित उर्जा उत्पादन तकनीक, प्रेस मड के माध्यम से सी. एन. जी जैसे उत्पादों का उत्पादन, गन्नो की खोई को सुखाने, अतिरिक्त विकल्प आधारित संग्रहों से इथेनॉल उत्पादन में क्षमता आदि से संबंधित थे। ।




- "शर्करा मानक संबंधित मामले"

अक्टूबर, 2015 एन.एस.आई, कानपुर

"शर्करा मानक संबंधित मामले ”

शर्करा मानक निर्धारक समिति के द्वारा 7 शर्करा मानकों का निर्धारण किया गया। L-31,M-31,S-31,SS-31 जिन्हें शर्करा उत्पादन वर्ष 2015-16 के लिए निर्धरित किया गया है। मानकों की मूल्य तथा उनसे संबंधित विस्तृत जानकारी संस्थान की बेवसाइट से प्राप्त की जा सकती है। http://www.nsi.gov.in



- " रोजगारपरक (प्लेसमेन्ट) गतिविधियाः"

अक्टूबर, 2015 राष्ट्रीय शर्करा संस्थान एन.एस.आई, कानपुर

“छात्रों के लिए प्लेसमेंट ड्राइव ”

छात्रों के दरम्यान विभिन्न शर्करा उद्योगों और अन्य संगठनों द्वारा परिसर में इंटरब्यू का आयोजन किया गया ताकि उन्हें विभिन्न पाठ्यक्रमों के अनुरुप रोजगार प्राप्त हो सके। इस दौरान मेसर्स हाल सिद्धनाथ सहकारी चीनी मिल लि0, बेलगावी, कर्नाटक, मेसर्स त्रिवेणु इंडस्ट्रीज लि0 नोयडा, उत्तर प्रदेश, मेसर्स मेसर्स एलेन स्मिथ लि0, पुणे, महाराष्ट्र और मेसर्स भगौली शर्करा लि0, हरदोई, उत्तर प्रदेश, मेसर्स केशर इंटरप्राइजेज लि0, बहेड़ी उत्तर प्रदेश, मेसर्स दाउरिया शुगर वर्क्स , मेसर्स डी.एस. ई. एल. अजबापुर, मेसर्स केटलिस्ट लि0, नोयडा, उत्तर प्रदेश और मेसर्स बायोडेग केमिकल सिस्टम, उत्तर प्रदेश जैसे संस्थाओ ने विभिन्न पाठ्यक्रम को छात्रों को नियुक्त प्रदान की।